उत्तराखंडऋषिकेश

भारतीय सेना ने संस्थान के कोरोना फ्रंट लाइन वॉरियर्स को किया सम्मानित

-सम्मान में सेना के हेलीकॉप्टर से की गई पुष्पवर्षा

एस के विरमानी/ऋषिकेश।अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में आयोजित कार्यक्रम में रविवार को भारतीय सेना ने संस्थान के कोरोना फ्रंट लाइन वॉरियर्स को सम्मानित किया। इसी दौरान कोरोना वायरस

कोविड-19 संक्रमित मरीजों की चिकित्सकीय सेवा से जुड़े चिकित्सकों,नर्सिंग ऑफिसर्स व अन्य सहकर्मियों के सम्मान में आसमान से सेना के हेलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा की गई।डा.योगेश कोविड -19को लेकर सस्थान की गतिविधियों में प्रारंभ से अग्रणीय भूमिका में कार्य कर रहे हैं व महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं।

रविवार को एम्स ऋषिकेश में भारतीय सेना की ओर से आयोजित कार्यक्रम में कोविड-19 से ग्रसित मरीजों की चिकित्सा सेवा में दिन-रात जुटे कोरोना फ्रंट लाइन वॉरियर्स के सम्मान स्वरूप हेलीकॉप्टर से फूल बरसाए गए। निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो.रवि कांत कहा कि संस्थान कोविड-19 की जंग के लिए पूरी तरह से राज्य सरकार के साथ है।

संस्थान इससे ग्रसित मरीजों को तत्परता के साथ चिकित्सकीय सेवाएं प्रदान करता रहेगा।इस अवसर पर सेना के रायवाला कैंट के कमांडर ब्रिगेडियर आकाश बजाज ने एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत को भारतीय सेना की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

ब्रिगेडियर बजाज ने कोविड-19 से ग्रसित मरीजों की बेहतर चिकित्सा सेवाओं के लिए एम्स ऋषिकेश की सराहना की।

इस दौरान उन्होंने डीन एकेडमिक प्रो.मनोज गुप्ता,वरिष्ठ सर्जन व आईबीसीसी प्रमुख प्रो.बीना रवि डीन अस्पताल प्रशासन प्रो.यूबी मिश्रा आदि को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर निदेशक के स्टाफ ऑफिसर डा.मधुर उनियाल,डा.प्रसन कुमार पांडा,डा.पुनीत धर,डा.दीपज्योति कलिता, डा.संतोष कुमार, डा.महेंद्र सिंह, डा.पुनीत कुमार गुप्ता आदि मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close