UNCATEGORIZED

एम्स ऋषिकेश में हुआ कोविड-19 वैक्सिनेशन की तैयारियों के मद्देनजर ड्राइ रन का आयोजन

-ड्राइ रन में किया एम्स के 25 चिकित्सकों, सिक्योरिटी व अन्य अधिकारियों, कर्मिचारियों ने प्रतिभाग

ऋषिकेश।अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में कोविड-19 वैक्सिनेशन की तैयारियों के मद्देनजर मंगलवार को ड्राइ रन का आयोजन किया गया। इसके लिए संस्थान के सामुदायिक एवं पारिवारिक चिकित्सा विभाग की ओर से आयुष भवन में भारत सरकार के मानकों के अनुरूप वैक्सिनेशन सेंटर की संपूर्ण व्यवस्था की गई है। ड्राइ रन में एम्स के 25 चिकित्सकों, सिक्योरिटी व अन्य अधिकारियों, कर्मिचारियों ने प्रतिभाग किया। सेंटर में पहले चरण में कुल 5,632 लोगों का टीकाकरण किया जाएगा।

एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत की देखरेख में 16 जनवरी से शुरू होने वाली कोविड-19 वैक्सिनेशन प्रक्रिया के लिए संस्थान में सभी व्यवस्थाएं चाकचौबंद कर दी गई हैं। मंगलवार को एम्स के आयुष भवन में स्थापित कोविड वैक्सिनेशन सेंटर में ड्राइ रन का आयोजन किया गया। इस दौरान राज्य सरकार की ओर से नियुक्त अपीडोमोलॉजिस्ट (महामारी विशेषज्ञ) डा. पीयूष आगस्टीन ने वैक्सिनेशन व्यवस्था व ड्राइ रन की संपूर्ण प्रक्रिया का निरीक्षण किया व सराहना की।

एम्स की कम्यूनिटी एंड फेमिली मेडिसिन विभागाध्यक्ष व वैक्सिनेशन कमेटी की चेयरपर्सन प्रो.वर्तिका सक्सेना ने बताया कि संस्थान के निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत के निर्देशन में भारत सरकार की गाइड लाइन के तहत कोविड-19 वैक्सिनेशन की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं, जिसके तहत मंगलवार को ड्राइ रन का आयोजन किया गया। उन्होंने बताया कि इसके अंतर्गत प्रत्येक स्वास्थ्यकर्मी का कोविड एप में वैरिफिकेशन व वैक्सिनेशन किया जाएगा, इसके बाद प्रत्येक व्यक्ति को 30 मिनट तक आब्जर्वेशन में रखा जाएगा, जिससे किसी भी व्यक्ति को टीकाकरण के बाद किसी प्रकार के साइड इफेक्ट होने की स्थिति में तत्काल आपात आवश्यक उपचार दिया जा सके।

उन्होंने बताया कि ऑब्जर्वेशन के दौरान किसी भी आपात स्थिति का सामना करने के लिए वैक्सिनेशन सेंटर में ही एईएफआई सेंटर भी स्थापित किया गया है। जिसका संचालन आपात चिकित्सा क्रिटिकल केयर डिपार्टमेंट की देखरेख में किया जाएगा। बताया गया है कि कोविड वैक्सिनेशन सेंटर में लोगों के लिए दो पतीक्षालय व दो टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। सेंटर में प्रतिदिन सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक औसतन 100 से 200 लोगों के टीकाकरण की व्यवस्था की गई है।

एम्स स्थित वैक्सिनेशन सेंटर में पहले चरण में 5,632 ​चिकित्सकों, नर्सिंग ऑफिसरों, तकनीकि सहायकों व अन्य अधिकारियों, कर्मचारियों का टीकाकरण किया जाएगा। इस अवसर पर टीकाकरण समिति के सदस्य सचिव डा. योगेश बहुरुपी, सीएफएम विभाग के डा. महेंद्र सिंह, डा. प्रदीप अग्रवाल, डा. संतोष कुमार,डा. हिदायत, डा. मीनाक्षी आदि मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email

Related Articles

error: Content is protected !!
Close